Huzoor Tajushariya Ki Shan Me Kalam By Ali Haidar Faizi Naat 2018 Islamicaawaz.com

Huzoor Tajushariya Ki Shan Me Kalam By Ali Haidar Faizi Naat 2018

जिन पर था नाज सबको ओ हज़रत चले गए 

जिन पर था नाज सबको ओ हज़रत चले गए जिन पर था सबको ओ चले गए
यानि की बाहार तजुशरियत चले गए

अहले सुनन की शान ओ मिलत के हैं मीन चरखे करम के बदर तरीकत चले गए
अहमद राजा की आँख के तारे ओ दिल के चैन सादाब पर हां जानिबे जन्नत छाए

रोता बिलखता अपने मुरीदों को छोर कर शहरे खामोश शान से हज़रत चले गए
इल्मो अमल में जिनका नहीं था हां हां वही तो साहिबे हिकमत चले गए

Leave a Comment