सबको रुला कर तजूशरिया चले गए Diwana Kiyo Tadapta Hai Nazim Raza Mazhari Naat

Diwana Kiyo Tadapta Hai Nazim Raza Mazhari Naat

दीवाना क्यों तड़पाता हैं मेरे तजुशरिया का हमेशा फैज़ पाता हैं मेरे तजुशरिया का
अँधेरे में चमकता हैं उजाले में दमकता हैं कसम से ऐसा चेहरा हैं मेरे तजुशरिया का

कसम से ऐसा चेहरा हैं मेरे तजुशरिया का दीवाना क्यों तड़पता हैं मेरे तजुशरिया का
अगर नारा लगते हैं ये भारत में तो हैरत क्या सऊदी में भी नारा हैं मेरे तजुशरिया का

जहा से इल्म का फैज़ान बटता हैं ज़माने में बहुत अच्छा इदारा हैं मेरे तजुशरिया का
दीवाना क्यों तड़पाता हैं मेरे तजुशरिया का

diwna kyo tadpata hai mere tajushariya ka 

diwana kyo tadpata hain mere tajushariya ka hamesha faiz pata hain mere tajushariya ka andhere me chamkata hain ujale men damakta hai kasam se ayesa chehara hain mere tajushariya ka

kasam se ayesa chehara hain mere tasjushariya ka diwana kyo tadpata hain mere tajushariya ka
agar nara lagate hain ye bharat me to hairat kya saudi me bhi nara hain mere tajushariya ka

jaha se ilm ka faizan batata hain zamane menbahut achha idara hain mere tajushariya ka diwana kyo machalta hain mere tajushariya kaa

Leave a Comment